पीएम ई विद्या योजना : ऑनलाइन लर्निंग की दिशा में एक प्रयास

कोरोना संकट की वजह से देश में लॉकडाउन लागू है। सभी शैक्षणिक संस्थान बंद हैं। इस लॉकडाउन के चलते कॉलेज व स्कूलों की परीक्षाएं स्थगित की जा चुकी हैं। ऐसे में सरकार की अाेर से उठाए गए महत्वपूर्ण कदम में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पीएम ई विद्या योजना की घोषणा कर चुकी हैं।

वहीं, लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन शिक्षा के जरिए पढ़ाई को जारी रखा जा रहा है। लॉकडाउन की वजह से बच्चों की पढ़ाई बाधित ना हो इसके लिए सरकार की ओर से ऑनलाइन लर्निंग की दिशा में प्रयास किया जा रहा है। इसके तहत सरकार पहली से लेकर बारहवीं तक हर कक्षा के लिए अलग टीवी चैनल लॉन्च करेगी। बच्चे इन चैनलों के माध्यम से अपने सिलेबस की पढ़ाई कर सकेंगे।
क्या है पीएम ई विद्या योजना :
मल्टीमोड एक्सेस डिजिटल/ऑनलाइन के जरिए पढ़ाई के लिए पीएम ई विद्या योजना की शुरुआत की जाएगी। इसके तहत कई कोर्स, एजुकेशनल चैनल, कम्युनिटी रेडियो एवं ई कोर्सेस शुरू किए जाएंगे।
100 विश्वविद्यालयों को ऑनलाइन कोर्स चलाने की मंजूरी
लॉकडाउन में ऑनलाइन एजुकेशन का महत्व समझते हुए भविष्य में इसके विस्तार की योजना बनाई गई है। इसके तहत 100 विश्वविद्यालयों को भी ऑनलाइन कोर्स चलाने की मंजूरी दी गई है। इसके अलावा कई नए कोर्स शामिल करने की संभावनाएं हैं। इस कड़ी में 200 नई पाठ्यपुस्तकें ई-पाठशाला में जोड़ी गई हैं।
रेडियो, कम्युनिटी रेडियो और पॉडकास्ट का इस्तेमाल बढ़ाया जाएगा : पहली से बारहवीं तक हर क्लास के बच्चों की पढ़ाई के लिए अलग-अलग टीवी चैनल के जरिए बच्चों की ऑनलाइन शिक्षा का विस्तार किया जाएगा। इन चैनलों पर एजुकेशनल कार्यक्रमों के लिए राज्य सरकारों की अाेर से भी मदद की जाएगी, जिससे बच्चे बेहतर कार्यक्रम के तहत सीख सकें। इसके साथ ही रेडियो, कम्युनिटी रेडियो और पॉडकास्ट का इस्तेमाल भी बढ़ाया जाएगा।
स्वयं प्रभा डीटीएच में पहले से मौजूद 32 चैनलों में से ही उपलब्ध करवाए जाएंगे 12 चैनल :

सूत्रों के अनुसार स्वयं प्रभा डीटीएच में पहले से मौजूद 32 चैनलों में से ही 12 चैनल उपलब्ध करवाए जाएंगे। इनमें से कई चैनल यूजीसी, एनआईओएस, इग्नू जैसे संस्थानों को आवंटित किए गए हैं। इस बीच मानव संसाधन मंत्रालय ने एनसीईआरटी से पाठ्यक्रम तैयार करने को कहा है। यह सभी पाठ्यक्रम कंटेंट वीडियो बेस्ड रहेंगे। इन चैनलों में लाइव क्लासें भी आयोजित की जाएंगी। इसके लिए जल्द से जल्द इन क्लासेज का टाइम टेबल जारी कर दिया जाएगा
मेंटल हेल्थ पर आधारित मनोदर्पण योजना की होगी शुरुआत :

इस लॉकडाउन के दौर में अधिकतर बच्चों का समय टीवी और स्मार्टफोन के सामने ही बीत रहा है। ऐसे में बच्चों की शारीरिक गतिविधियां ना के बराबर रह चुकी हैं। बच्चों का घर से बाहर निकलना बंद हो गया है। इसका असर उनकी मेंटल हेल्थ पर पड़ता है, इसलिए साइकोलॉजी सपाेर्ट के लिए मनोदर्पण योजना का बच्चों को लाभ मिलेगा। वहीं, दिव्यांग बच्चों के लिए ई कंटेंट ऑनलाइन कोर्स शुरू किए जाएंगे। इसके तहत दिव्यांग बच्चों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए कई कोर्सेस की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा दीक्षा प्लेटफॉर्म स्कूल एजुकेशन के लिए ई-कंटेंट के तहत कई ई-पुस्तकें, कोर्स जोड़े जाएंगे। इससे स्कूली शिक्षा बेहतर बन सकेगी। अब वन नेशन वन डिजिटल प्लेटफार्म के रूप में दीक्षा एप काम करेगा।
– भूपेश शर्मा, सह संयोजक, जिला समान परीक्षा योजना माध्यमिक शिक्षा, श्रीगंगानगर