शिक्षा मंत्री नें सवालों के दिए जवाब / सवाल : निजी स्कूलों की फीस से राहत के लिए क्या तैयारी है?जवाब : शिकायत पर कार्रवाई, कमेटी देखेगी कि भेदभाव नहीं हो

सीबीएसई ने भले ही दसवीं की परीक्षा नहीं लेने का निर्णय ले लिया हो, लेकिन राजस्थान बोर्ड की 10वीं की परीक्षा को लेकर अभी तक ऐसा कोई निर्णय नहीं हुआ है। शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है कि अभी हमारी प्लानिंग 10वीं और 12वीं की दोनों ही परीक्षाएं आयोजित करने की है। लॉकडाउन हटने के बाद यह देखा जाएगा कि इसको किस तरह से सोशल डिस्टेंसिंग के हिसाब से आयोजित किया जा सकता है। कोरोना महामारी के चलते उत्पन्न हुई परिस्थितियों को लेकर भी नए सत्र से स्कूली सिस्टम में बड़ा बदलाव संभव है। एकीकरण के चलते बंद पड़ी स्कूलें फिर से बच्चों से आबाद हो सकती है तो दूसरी तरफ 1000 से अधिक नामांकन वाले स्कूलों को 2 पारियों में चलाया जा सकता है। शिक्षामंत्री डोटासरा ने शिक्षक भर्ती, रीट, यूनिफॉर्म, एनसीईआरटी सिलेबस सहित शिक्षा विभाग के कई मुद्दों और भर्तियों को लेकर दैनिक भास्कर की ओर से पूछे गए सवालों के जवाब दिए।
राजस्थान बोर्ड की दसवीं और बारहवीं के शेष परीक्षाओं को लेकर कब तक निर्णय हो जाएगा?

क्या सीबीएसई की तर्ज पर 10वीं की परीक्षा नहीं होगी।
जवाब: लॉकडाउन हटने पर परीक्षाओं को लेकर निर्णय होगा। हम 10वीं और 12वीं दोनों कक्षाओं की परीक्षा आयोजित करने के हिसाब से काम कर रहे हैं। इनमें सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर पूरा प्लान तैयार किया जाएगा।
10वीं और 12वीं में एनसीईआरटी सिलेबस नए सत्र से लागू क्यों नहीं किया जा रहा?
जवाब: यह संभव नहीं है, क्योंकि विद्यार्थी नवीं और ग्यारहवीं में राजस्थान बोर्ड का सिलेबस पढ़ चुका है। इसलिए बदलाव उचित नहीं होगी। बदलाव से बच्चे की तैयारी पर फर्क पड़ेगा।
क्या शिक्षा सत्र में बदलाव की तैयारी की जा रही है? स्कूलें खुलने पर कोरोना से सुरक्षा को लेकर क्या करेंगे।
जवाब: फिलहाल 1 जुलाई से नया शिक्षा सत्र प्रारंभ होगा। स्कूलें खुलने पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए पूरी गाइडलाइन तैयार की जा रही है।
जरुरत पड़ने पर बंद पड़ी स्कूलों में बच्चों को बैठाया जा सकता है। एक हजार से अधिक विद्यार्थी होने पर स्कूल को दो पारी में किया जा सकता है।
रीट परीक्षा का सिलेबस क्या रहेगा और परीक्षा कब तक होगी?
जवाब: रीट के सिलेबस में कोई बदलाव नहीं है। एनसीटीई की 2011 की गाइडलाइन के अनुसार ही रीट परीक्षा 2 सितंबर को होगी। रीट को लेकर हमारी तैयारी पूरी है। लेकिन अंतिम निर्णय कोरोना को लेकर केंद्र की गाइडलाइन के आधार पर ही लिया जाएगा।
तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती के पैटर्न में सरकार क्या इस बार कोई बदलाव करेगी?
जवाब: रीट में कोई बदलाव नहीं है, लेकिन इसके बाद होने वाली शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया में बदलाव पर मंथन चल रहा है। इसमें देखा जा रहा है कि वेटेज में बदलाव किया जाए या भर्ती का कोई अन्य तरीका अपनाया जाए।
3 हजार पदों पर स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा की प्रक्रिया कब शुरू होगी?
जवाब: हम पहले व्याख्याता के पद पर डीपीसी करेंगे। इसके बाद हम अपनी घोषणा के अनुसार व्याख्याता भर्ती को लेकर आगे कदम उठाएंगे।
आरपीएससी से चयनित 9 हजार द्वितीय श्रेणी शिक्षकों को कब तक नियुक्ति मिलेगी?
जवाब: अभी हमारे पास चयनित अभ्यर्थियों के दस्तावेज नहीं आए हैं। दस्तावेज आते ही नियुक्ति को लेकर आगे की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।
क्या नए सत्र से स्कूली यूनिफॉर्म में बदलाव किया जाएगा?
जवाब: स्कूल यूनीफॉर्म को लेकर एक कमेटी का गठन किया हुआ है। कमेटी जो रिपोर्ट देगी, उसके आधार पर ही आगे निर्णय लिया जाएगा।
आरटीई में प्रवेश कब से प्रारंभ होंगे। इसमें हुई देरी के कारण कई बच्चे ओवरएज हो गए हैं?
जवाब: लॉकडाउन हटते ही आरटीई के जरिए निजी स्कूलों में निशुल्क प्रवेश की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। इसमें जितनी देरी हुई है,

उतनी आयु की बच्चों को शिथिलता प्रदान की जाएगी। ताकि किसी भी बच्चे को कोई नुकसान नहीं हो?

मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार निजी स्कूलों की फीस से राहत के लिए शिक्षा विभाग क्या तैयारी कर रहा है?
जवाब: सरकार की गाइडलाइन के विपरीत अगर निजी स्कूलों की कोई शिकायत आई तो कार्रवाई होगी। इसके अलावा अभिभावकों को किस तरह से राहत दी जा सकती है। इसके लिए एक कमेटी का गठन किया जाएगा। कमेटी यह भी देखेगी कि निजी स्कूलों के साथ भी कोई भेदभाव नहीं हो।